Girish Pankaj
गिरीश पंकज
सम्पादकीय सलाहकार
Arun Kumar Jha
अरुण कुमार झा
प्रधान संपादक
Rajiv Anand
राजीव आनन्द
संपादक
Vinay Kumar Mishra
विनय कुमार मिश्र
संपादन सहयोगी
• गांधी जी की शहादत • 10 लाख डॉलर कीमत की है आलू की यह तस्वीर • बिल गेट्स से दोगुनी संपत्ति है पुतिन के पास जानिए इस रईस को • षष्ठम अन्तर्राष्ट्रीय ब्लागर सम्मेलन (थाईलैण्ड) • भारत के रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर रांची के पहाड़ी मंदिर पर विश्व का सबसे ऊँचा राष्ट्रीय तिरंगा फहराकर इतिहास रचा • संगीता सिंह भावना की तीन कविताएँ • नमो पतंगबाजी की धूम • ट्रैफिक सुरक्षा सप्ताह का दूसरा दिन  • जबरा करे तो दिल्लगी, गबरू का गुनाह…!!

About Author

अरुण कुमार झा

Member Since: 01 01, 1996

1976 से पत्रकारिता, दैनिक, साप्ताहिक, पाक्षिक, एवं मासिक का संपादन. वर्तमान में 1996 से दृष्टिपात हिंदी मासिक पत्रिका का संपादन-सञ्चालन. सभी विधा में लेखन.


sundar pichai

सुंदर पिचाई पर कोई क्यों नहीं बनाता फिल्म?

Posted by at Dec 24, 2015

  तारकेश कुमार ओझा 80 के दशक में एक फिल्म आई थी, नाम था लव – मैरिज। किशोर उम्र में देखी गई इस फिल्म के अत्यंत साधारण होेने के बावजूद इसका मेरे जीवन में विशेष महत्व था।  इस फिल्म के एक सीन से मैं कई दिनों तक रोमांचित रहा था। क्योंकि फिल्म में चरित्र अभिनेता…


राज्य में प्रत्येक प्रखंडों में श्रमिक मित्र बनाये जायेंगे

– राज्य में श्रमिक मित्र व श्रमिक संवाद का किया जायेगा गठन दृ राज पालिवार – श्रमिकों के वेतनों को सुनिश्चित करने के लिए ऑपरेशन इंसाफ चलाया जायेगा – नये साल में 24 जिलों में चलायेगी राज्य सरकार कौशल विकास के अंतर्गत हुनर कार्यक्रम – विश्व बैंक ने श्रम कानूनों में सरलीकरण के लिए झारखंड को…


आखिर कब तक चलेगा बुजुर्गो की भावनाओं के साथ खिलवाड़

गृहस्‍त आश्रम में प्रवेश क्‍या किया हम जीना ही भूल जाते है।भविष्‍य और बच्‍चों की चिन्‍ता में दिन रात लगें हुए पाई पाई जोड़ कर अपने बच्‍चों का सुख और उनका भविष्‍य खरीदना चाहते है। हम भूल जाते है हमारी अपनी भी जिन्‍दगी है। अपने अरमानों को अपने सपनों को कर्तव्‍य दर कर्तव्‍य बढ़ाते चले…


चक्रधरपुर अनुमण्डल के पूर्व अनुमण्डल पदाधिकारी रवि शंकर शुक्ल लातेहार के उपायुक्त बनाए गये

 बिनय मिश्रा चक्रधरपुर के पूर्व अनुमण्डल पदाधिकारी व वर्तमान में लोहरदगा के अनुमण्डल पदाधिकारी रवि शंकर शुक्ला, लातेहार जिला के उपायुक्त बनाये गये हैं। श्री शुक्ला चक्रधरपुर में लगभग एक वर्श तक अनुमण्डल पदाधिकारी के रूप में पदस्थापित रहे हैं तथा उन्होंने प्रशिक्षु  के रूप में भी पश्चिमसिंहभूम जिला मुख्यालय, चाईबासा में पदस्थापित रह चुके हैं।…


राम चन्द्र चंद्रवंशी

एक वर्ष में सुदृढ़ हुईं स्वास्थ्य सेवाएं : रामचंद्र चंद्रवंशी स्वास्थ्य मंत्री

Posted by at Dec 22, 2015

गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए सरकारी सहायता का दायरा बढ़ा 31 मार्च 2016 से शुरू होगा रांची में नवनिर्मित सदर अस्पताल पलामूए हजारीबाग और दुमका में नये मेडिकल कॉलेज खुलेंगे रांचीः स्वास्थ्य मंत्री श्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा है कि राज्य में सरकारी चिकित्सा सुविधाएं पहले से ज्यादा सुदृढ़ हुई हैं और भविष्य में…


झारखण्ड सरकार के महत्वपूर्ण निर्णय

– झारखण्ड तकनीकी विश्व विद्यालय के निर्माण हेतु कुल 80,98,70,326/- रू0 (अस्सी करोड़ अंठानवे लाख सत्तर हजार तीन सौ छब्बीस) की प्राक्कलित राशि पर तकनीकी अनुमोदन के फलस्वरूप प्रशासनिक स्वीकृति के निमित मंत्रिपरिषद की स्वीकृति। –  भारत सरकार द्वारा निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र की भागीदारी (पी0पी0पी0) के अन्तर्गत एडवाॅस ट्रेनिंग इन्टीच्यूट (ए0टी0आई0) की स्थापना हेतु राज्य…


kumbh mele ka aamantran

आमंत्रण- सिंहस्थ महाकुम्भ की सांस्कृतिक ‘अनुगूँज’,

Posted by at Dec 19, 2015

21,22 एवं 23 दिसम्बर शाम 7 बजे से, क्षिप्रा तट, रामघाट, उज्जैन में एक सांस्कृतिक समारोह का आयोजन किया गया है. समस्त भारत के श्रधालुओं को सादर आमंत्रित किया जाता है. शिवम् गुप्ता 


saranda jungal

“सारंड़ा एक्सन प्लान’’ के तहत गुवा के सारंड़ा वन क्षेत्र का निरीक्षण

संगीता पाण्ड़ेय कोल्हान कमीषनर अरूण कुमार के नेतृत्व में पदाधिकारियों का काफिला गुवा में सुबह से देर षाम तक क्षेत्र का निरीक्षण करती रही.‘‘सारंड़ा एक्सन प्लान’’ के तहत पदाधिकारियों की आपसी मीटिंग गुवा क्लब में आयोजित की गई. गुवा सेल महाप्रबंधक अषोक कुमार वर्मा एवं सेल के दर्जनों पदाधिकारियों ने पष्चिम सिंहभूम जिला से आए…


mukhyamantri raghuwar das

सुखाड़ की भयावह स्थिति का मुआयना सेन्ट्रल टीम खुद क्षेत्र में जाकर करें : सी.एम. रघुवर दास

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सुखाड़ की घोषणा की जा चुकी है। अतः सुखाड़ की भयावह स्थिति का मुआयना सेन्ट्रल टीम खुद क्षेत्र में जाकर करें, और नुकसान का शीघ्र आकंलन करते हुए राज्य सरकार द्वारा सुखे से निपटने के लिए भेजे गए प्रस्ताव पर शीघ्र कार्रवाई करे, ताकि सुखाड़…


पेय जल एवं स्वक्षता अधिकारी-मंत्री

वर्तमान स्थिति और भविष्य को देखते हुए एक वैकल्पिक व्यवस्था समय की मांग है : सी.पी. चौधरी

राजधानी रांची में पेयजलापूर्ति व्यवस्था 1960 के समय की ही है जो अब तक चली आ रही है, पर वर्तमान स्थिति और भविष्य को देखते हुए एक वैकल्पिक व्यवस्था समय की मांग है। इसको लेकर संबंधित विभागों की विषेष बैठक बुलाने पर जल संसाधन विभाग कार्य कर रहा है। स्वच्छता अभियान के अन्तर्गत आवेदन आधारित…


drishtipat oct15

…बहुत काम बाकी हैं

Posted by at Dec 16, 2015

पूरी दुनिया असहिष्णुता का दंश झेल रही है। भारत इसका कोई अपवाद नहीं है। असहिष्णुता का रूप, आकार, नाम और प्रकार भिन्न-भिन्न हो सकता है। समय और काल के हिसाब से इसका प्रभाव कम और बेशी दिखता है। रंगभेद, नस्लभेद, वर्णभेद आदि इसके कई कारक हैं। मनुष्य जब पृथ्वी पर आया होगा, उस वक्त शायद…


रघुवाए दास

हमारी सरकार आई0टी0 की मदद से लोगों को आॅनलाईन सेवा उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है : सी.एम. रघुवर दास

Posted by at Dec 15, 2015

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि हमारी सरकार आई0टी0 की मदद से लोगों को आॅनलाईन सेवा उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है। शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों को एनओसी के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की है। अब वित्तरहित शैक्षणिक संस्थानों को अनुदान भी ऑनलाइन ही मिलेगा। पहले लोगों को विभागों को चक्कर काटने…


Governet jhakhand

गुरू-षिष्य संबंधों में काफी क्षरण हो रहा है, ये हम सभी के लिये अत्यंत चिंता का विषय है : द्रौपदी मुर्मू, राज्यपाल झारखण्ड.

– गुरू-षिष्य संबंध प्रगाढ़ हो। – सभी संवेदनषील होकर अपने दायित्वों का समर्पण भाव के साथ निवर्हन करें। – सभी विष्वविद्यालय षिक्षकों एवं कर्मियों की डाटाबेस विवरणी वेबसाईट पर अपलोड करें। – विष्वविद्यालय रिक्त पदों पर नियुक्ति हेतु रोस्टर क्लियरेंस करा नियुक्ति हेतु उच्च षिक्षा विभाग को प्रस्ताव भेजे। – हमारा राज्य ऐजूकेषन हब बने।…


शिक्षामंत्री नीरा यादव झारखण्ड

झारखंड को शिक्षा हब बनायेंगे : डॉ. नीरा यादव

निजी विश्वविद्यालयों के संचालकों ने झारखंड में दिखाई रुचि शिक्षा विभाग ने शिकायत और सुझाव के लिए टॉल फ्री नंबर किये जारी झारखंड को शिक्षा हब बनाने के लिए राज्य सरकार ने योजनाएं बना ली हैए कुछ योजनाओं को पूरा कर लिया गया हैए जबकि कुछ योजनाएं पूर्ण होने की स्थिति में हैंए जैसे ही…


parimal nathwani

पिछले 03 सालों में झारखण्ड को​ सिंचाई के लिए रू.604 करोड़ और वाटर शेड के लिए रू. 77.57 करोड़ मिले  

Posted by at Dec 14, 2015

    रांची, केन्द्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय ने पिछले तीन सालों मेंत्वरित सिंचाई लाभ और बाढ़ प्रबंधन कार्यक्रम तहत झारखण्ड राज्य को रू. 604 करोड़ की सहायता जारी की।एकीकृत वाटर शेड प्रबंधन कार्यक्रम के तहत केन्द्र सरकार ने झारखण्ड को रू 77.57 करोड़ की सहायता जारी की।केन्द्रीय जल संसाधन, नदी विकास…


अन्य ख़बरें

Submit Your Article

Copyright © 2015. All rights reserved. Powered by Origin IT Solution