Girish Pankaj
गिरीश पंकज
सम्पादकीय सलाहकार
Arun Kumar Jha
अरुण कुमार झा
प्रधान संपादक
Rajiv Anand
राजीव आनन्द
संपादक
Vinay Kumar Mishra
विनय कुमार मिश्र
संपादन सहयोगी
• गांधी जी की शहादत • 10 लाख डॉलर कीमत की है आलू की यह तस्वीर • बिल गेट्स से दोगुनी संपत्ति है पुतिन के पास जानिए इस रईस को • षष्ठम अन्तर्राष्ट्रीय ब्लागर सम्मेलन (थाईलैण्ड) • भारत के रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर रांची के पहाड़ी मंदिर पर विश्व का सबसे ऊँचा राष्ट्रीय तिरंगा फहराकर इतिहास रचा • संगीता सिंह भावना की तीन कविताएँ • नमो पतंगबाजी की धूम • ट्रैफिक सुरक्षा सप्ताह का दूसरा दिन  • जबरा करे तो दिल्लगी, गबरू का गुनाह…!!

राज्य में प्रत्येक प्रखंडों में श्रमिक मित्र बनाये जायेंगे


– राज्य में श्रमिक मित्र व श्रमिक संवाद का किया जायेगा गठन दृ राज पालिवार
– श्रमिकों के वेतनों को सुनिश्चित करने के लिए ऑपरेशन इंसाफ चलाया जायेगा
– नये साल में 24 जिलों में चलायेगी राज्य सरकार कौशल विकास के अंतर्गत हुनर कार्यक्रम
– विश्व बैंक ने श्रम कानूनों में सरलीकरण के लिए झारखंड को सराहाए पूरे देश में झारखंड प्रथम स्थान पर दृ राज पलिवारए श्रम नियोजन मंत्री
राज्य में प्रत्येक प्रखंडों में श्रमिक मित्र बनाये जायेंगे जो श्रमिकों को उनकी समस्याओं से राहत दिलायेंगे। श्रमिकों के लिए जल्द ही धावा दल का गठन किया जायेगाए जो आपरेशन इंसाफ के तहत कार्य करेंगे। ये दल देखेगा कि मजदूरों को उनका मिलनेवाला सम्मानजनक वेतन मिल पा रहा है या नहीं। यहीं नहीं राज्य के श्रमिक अपनी समस्याओं को श्रमिक संवाद के तहत भी राज्य सरकार तक पहुंचा सकते हैं। राज्य सरकार श्रमिकों के लिए जल्द ही हेल्पलाइन जारी करेंगी। ये सारी घोषणाएं राज्य के श्रम नियोजनए प्रशिक्षण एवं कौशल विकास मंत्री राज पालिवार ने सूचना भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में की।
श्री पालिवार ने संवाददाताओं को कहा कि ये श्रम विभाग में हुए विभिन्न कानूनों के सरलीकरण का ही कमाल हैं कि राज्य आज विकास के क्षेत्र में दिनानुदिन तरक्की कर रहा है। आज व्यापार सुगमता सूचकांक में जो राज्य विश्व बैंक के अनुसार तीसरे स्थान पर है और तेजी से विकसित होते हुए राज्यों में चौथे स्थान पर हैं। उन्हें ये बताते हुए खुशी हो रही हैं कि विश्व बैंक ने उनके विभाग को श्रम विभागों में हुए कानूनों के सरलीकरण को देखते हुए प्रथम स्थान पर रखा हैंए जो गर्व का विषय है।
उन्होंने विपक्षी दलों की इस बात के लिए कड़ी आलोचना कीए कि वे राज्य के हित मेंए श्रमिकों के हित में विशेष ध्यान न देकरए सदन में और सदन के बाहर गलत आरोप लगा रहे हैं और राज्य में चल रही विकास योजनाओं पर कुठाराघात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि राज्य में अब नियोजनालयों के माध्यम से नौकरियां मिल रही हैए यानी अब राज्य में नियोजनालयों की भी साख बढ़ी है। राज्य में लेबर एडवाइजरी कमिटी का गठन हो चुका है और बाल संरक्षण आयोग तथा मानव संसाधन विभाग की ओर से राज्य में श्रमिकों के बच्चों के शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि आज पूरे राज्य से इंस्पेक्टर राज्य खत्म हो चुका हैए जिसका परिणाम हैं कि आज राज्य तेजी से आगे की ओर बढ़ा है। आज पैसा और पसीने का सम्मिश्रण कर हम राज्य के श्रमिकों को सम्मान दिलाना चाहते हैं। आज राज्य सरकार ने श्रमिकों के हित में कई कार्य कियेए उनका न्यूनतम मजदूरी दर बढ़ायाए यहीं नहीं इनका ऑनलाइन भुगतान शुरु कराया। राज्य के बाहर जो हमारे मजदूर भाई रहते हैंए उनकी भी सुध लीए अगर वे राज्य के बाहर किसी कारणों से घायल या बीमार पड़ते हैं तो उनके लिए भी एक लाख रुपये मुहैया करायेगी। आज हम पंजीकृत मजदूरों को साइकिल और सिलाई मशीन भी दे रहे हैंए जो आज तक किसी ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही जनवरी 2016 से राज्य के सभी 24 जिलों में कौशल विकास के तहत हुनर कार्यक्रम को आयोजित करायेंगे ताकि राज्य के सभी श्रमिक आगे बढ़े और उनका सम्मान कायम रहे। आज असंगठित कर्मकारों को निबंधित कर पहचान पत्र निर्गत करने के लिए श्रम शक्ति पहचान अभियान का पायलट प्रोजेक्ट देश में सर्वप्रथम रांची में संचालित किया गया हैए जो दूसरे राज्यों के लिए भी अनुकरणीय बन गया है। उन्होंने कहा कि 67124 श्रमिकों को आम आदमी बीमा योजना का लाभ दिया गया तथा 4177 को विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत प्रशिक्षित किया गया। दत्तोपंत ठेंगरी मेला के माध्यम से अब तक 8225 बेरोजगारों को रोजगार हेतु चयन भी किया गयाए जबकि कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा राज्य में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना के निर्णय के आलोक में केन्द्र को प्रस्ताव भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Youtube
Sensex

अन्य ख़बरें

Submit Your Article

Copyright © 2015. All rights reserved. Powered by Origin IT Solution