Girish Pankaj
गिरीश पंकज
सम्पादकीय सलाहकार
Arun Kumar Jha
अरुण कुमार झा
प्रधान संपादक
Rajiv Anand
राजीव आनन्द
संपादक
Vinay Kumar Mishra
विनय कुमार मिश्र
संपादन सहयोगी
• गांधी जी की शहादत • 10 लाख डॉलर कीमत की है आलू की यह तस्वीर • बिल गेट्स से दोगुनी संपत्ति है पुतिन के पास जानिए इस रईस को • षष्ठम अन्तर्राष्ट्रीय ब्लागर सम्मेलन (थाईलैण्ड) • भारत के रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर रांची के पहाड़ी मंदिर पर विश्व का सबसे ऊँचा राष्ट्रीय तिरंगा फहराकर इतिहास रचा • संगीता सिंह भावना की तीन कविताएँ • नमो पतंगबाजी की धूम • ट्रैफिक सुरक्षा सप्ताह का दूसरा दिन  • जबरा करे तो दिल्लगी, गबरू का गुनाह…!!

जी 20 शिखर सम्मेलन मेन पी.एम. मोदी ने कहा : आतंक के खिलाफ एकजुट होकर मजबूती से खड़े हैं


अंतालिया. तुर्की के पर्यटन केंद्र अंतालिया में एकत्रित दुनिया की शीर्ष 20 अर्थव्यवस्थाओं के प्रमुखों का दो दिन का सम्मेलन आज कडी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ.जी20 देशों की बैठक में शामिल होने तुर्की के अंतल्या पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां अपने संबोधन में पेरिस में हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए आतंक के खिलाफ दुनिया को एकजुट होने के लिए कहा.
प्रधानमंत्री ने ब्रिक्स सम्मेलन में अपने संबोधन में कहा कि हम आतंक के खिलाफ एकजुट होकर मजबूती से खड़े हैं और इसकी निंदा करते हैं.
एक वक्त था जब ब्रिक्स के अस्तीत्व को लेकर सवाल उठाए जाते थे. भारत के लिए ब्रिक्स देश बेहद महत्वपूर्ण है. भारत जब ब्रिक्स की अध्यक्षता करेगा, तब यह प्रतिक्रियात्मक, समावेशी और संयुक्त समाधान पर ध्यान देगा.
आतंक के मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्तमान में आतंक के खिलाफ पूरी मानवता को एकजुट होकर खड़ा होना होगा. अंकारा और बेरुत भी आतंक के बढ़ते प्रभाव के गवाह हैं. आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक प्रयास पहले इतने जरूरी नहीं रहे थे लेकिन अब यह ब्रिक्स की प्राथमिकता होना चाहिए.
उन्होंने आगे कहा कि मैं खुश हूं कि चीन दिसंबर 2015 में अध्यक्षता ग्रहण करेगा और हम उसे पूरा समर्थन देने का आश्वासन देते हैं.
पेरिस पर हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर यहां हजारों की संख्या में तैनात किये गये सुरक्षा कर्मी जी-20 शिखर सम्मेलन स्थल के चप्पे चप्पे पर निगाह रखे हुए हैं और उनकी मदद के लिए उच्च प्रौद्योगिकी वाले निगरानी यंत्र और प्रणालिया लगायी गयी हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने यहां आए हैं. पेरिस में शुक्रवार रात हुए आतंकवादी हमले के बाद यहां सम्मेलन स्थल पर सुरक्षा बंदोबस्त और कडे कर दिये गये हैं. इस काम में 12,000 सुरक्षाकर्मी, ड्रोन पकडने वाले उपकरण, लाइसेंस प्लेट रिकार्डिंग वाले 350 मोबाइल कैमरे तथा चेहरे की पहचान वाली प्रणालियां लगायी गयी हैं.
अंतालिया के सेरिक जिले के बेलेक शहर में रेग्नम कारिया होटल के कन्वेंशन सेंटर में आयोजित दसवें जी-20 शिखर सम्मेलन में करीब 13,000 अधिकारियों के अलावा दुनिया भर से 3,000 पत्रकार भी आए हैं. बेलेक को उच्च सुरक्षा वाला ‘रेड जोन’ घोषित किया गया है और गैर प्रतिनिधियों के लिए यह एक प्रकार से निषिद्ध क्षेत्र है. यहां के बाजार और दुकानें बंद हैं और सम्मेलन स्थल को जाने वाली सडकों पर हजारों बैरिकेड लगाए गए हैं और सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.

One response to “जी 20 शिखर सम्मेलन मेन पी.एम. मोदी ने कहा : आतंक के खिलाफ एकजुट होकर मजबूती से खड़े हैं”

  1. Govind says:

    आतंकवादियो ने “अल्लाह ओ अकबर” का नारा लगा के हमला
    किया था,इससे साबित होता है की आतंकवाद का कोई
    धर्म नहीं होता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Youtube
Sensex

अन्य ख़बरें

Submit Your Article

Copyright © 2015. All rights reserved. Powered by Origin IT Solution